tag manger - अब वैश्विक चिंता का विषय है : जलवायु परिवर्तन का कृषि एवं पशुओं पर इसका प्रभाव – KhalihanNews
Breaking News
जलवायु परिवर्तन का कृषि एवं पशुओं पर इसका प्रभाव

अब वैश्विक चिंता का विषय है : जलवायु परिवर्तन का कृषि एवं पशुओं पर इसका प्रभाव

जलवायु परिवर्तन आज हमारे ग्रह के सामने सबसे गंभीर चुनौतियों में से एक है, जिसके दुनिया भर के पारिस्थितिक तंत्र, समुदायों और अर्थव्यवस्थाओं पर दूरगामी परिणाम होंगे। जलवायु परिवर्तन का प्रभाव कृषि और पशु आबादी सहित विभिन्न क्षेत्रों में महसूस किया जा रहा है

मौसम का बदलता मिजाज – 

बढ़ते तापमान और परिवर्तित वर्षा चक्र पारंपरिक बढ़ते मौसम को बाधित करते हैं और फसल की पैदावार को प्रभावित करते हैं। सूखा, बाढ़ और लू जैसी चरम मौसम की घटनाएं किसानों के लिए महत्वपूर्ण चुनौतियां पैदा करती हैं, जिससे फसल बर्बाद हो जाती है और उत्पादकता कम हो जाती है। मौसम का बदलता मिजाज कीटों, बीमारियों और आक्रामक प्रजातियों को भी प्रभावित करता है, जिससे कृषि प्रणालियों पर और असर पड़ता है।

जल की कमी और सिंचाई – 

जलवायु परिवर्तन से पानी की कमी बढ़ जाती है, जिससे सिंचाई प्रणाली प्रभावित होती है और फसल की खेती के लिए पानी की उपलब्धता कम हो जाती है। बढ़ती वाष्पीकरण दर और बदलते वर्षा पैटर्न ने जल संसाधनों पर और दबाव डाला है, खासकर शुष्क और अर्ध-शुष्क क्षेत्रों में। पानी की कमी से निपटने के लिए कुशल सिंचाई तकनीक जैसी सतत जल प्रबंधन प्रथाएं महत्वपूर्ण हो जाती हैं।

कीटों में बदलाव –

तापमान और वर्षा में परिवर्तन से फसलों के भौगोलिक वितरण में परिवर्तन होता है, जिससे विभिन्न क्षेत्रों में उनकी उपयुक्तता प्रभावित होती है। कीट और बीमारियाँ भी अपना दायरा बदल सकती हैं, जिससे फसल की क्षति बढ़ जाती है और अतिरिक्त कीट नियंत्रण उपायों की आवश्यकता होती है। इन चुनौतियों से निपटने के लिए फसल विविधीकरण और प्रतिरोधी किस्मों के विकास सहित अनुकूलन रणनीतियाँ आवश्यक हैं।

खाद्य सुरक्षा और आजीविका –जलवायु परिवर्तन

कृषि उत्पादकता में कमी और बढ़ती खाद्य असुरक्षा वैश्विक खाद्य प्रणालियों के लिए खतरा पैदा करती है। कमजोर क्षेत्र, जहां कृषि आय और आजीविका का प्राथमिक स्रोत है, विशेष रूप से जोखिम में हैं। कमजोर आबादी के लिए खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए जलवायु-लचीली कृषि पद्धतियाँ, बाज़ारों तक बढ़ी हुई पहुँच और सामाजिक सुरक्षा जाल महत्वपूर्ण हैं।

पशुधन पर प्रभाव –

तापमान और वर्षा पैटर्न में परिवर्तन पशु प्रजातियों के आवास और वितरण को प्रभावित करते हैं, जिससे पारिस्थितिक तंत्र में बदलाव आता है। अनुकूलन या प्रवासन में असमर्थ प्रजातियों को जनसंख्या में गिरावट या यहां तक ​​कि विलुप्त होने का सामना करना पड़ सकता है, जिससे पारिस्थितिक संतुलन बाधित हो सकता है। बदलती जलवायु में जैव विविधता के संरक्षण के लिए संरक्षण प्रयास, आवास बहाली और संरक्षित क्षेत्र आवश्यक हो जाते हैं।

गर्मी का तनाव और रोग – 

बढ़ते तापमान और हीटवेव जानवरों पर तनाव डालते हैं, जिससे उत्पादकता कम हो जाती है, प्रजनन क्षमता ख़राब हो जाती है और मृत्यु दर बढ़ जाती है। वेक्टर-जनित रोगों सहित संक्रामक रोग अपना दायरा बढ़ा सकते हैं क्योंकि बदलती जलवायु अधिक अनुकूल परिस्थितियाँ पैदा करती है। इन प्रभावों को कम करने के लिए बेहतर पशु प्रबंधन प्रथाओं, रोग निगरानी और पशु चिकित्सा देखभाल आवश्यक है।

पशुधन और आजीविका पर प्रभाव – 

पशुधन, विशेष रूप से पशुचारण पर निर्भर क्षेत्रों में, जलवायु परिवर्तन के प्रभावों, जैसे कम चारे की उपलब्धता और पानी की कमी, के प्रति संवेदनशील हैं। कम पशुधन उत्पादकता कई समुदायों में आजीविका, खाद्य सुरक्षा और सांस्कृतिक प्रथाओं को प्रभावित करती है। जलवायु लचीलेपन के निर्माण के लिए सतत पशुधन प्रबंधन, नस्ल चयन और वैकल्पिक आजीविका विकल्प महत्वपूर्ण हैं।

कृषि उत्पादकता में कमी और बढ़ती खाद्य असुरक्षा वैश्विक खाद्य प्रणालियों के लिए खतरा पैदा करती है। कमजोर क्षेत्र, जहां कृषि आय और आजीविका का प्राथमिक स्रोत है, विशेष रूप से जोखिम में हैं। कमजोर आबादी के लिए खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए जलवायु-लचीली कृषि पद्धतियाँ, बाज़ारों तक बढ़ी हुई पहुँच और सामाजिक सुरक्षा जाल महत्वपूर्ण हैं।

About admin

Check Also

भारत में जरूरत पूरी करने को म्यांमार से मंगाई गई ड्यूटी फ्री मक्का

सरकार की तरफ से पिछले इथेनॉल उत्पादन के लिए गन्ने के प्रयोग पर प्रतिबंध लगाने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

https://mostbetaz2.com, https://mostbet-azerbaijan.xyz, https://mostbet-royxatga-olish24.com, https://vulkanvegasde2.com, https://mostbetsportuz.com, https://mostbet-az-24.com, https://mostbet-ozbekistonda.com, https://1xbet-az24.com, https://mostbet-azerbaycan-24.com, https://mostbet-azer.xyz, https://mostbet-qeydiyyat24.com, https://1win-azerbaycanda24.com, https://1winaz777.com, https://pinup-qeydiyyat24.com, https://pinup-bet-aze1.com, https://mostbet-az.xyz, https://1x-bet-top.com, https://mostbetuzbekiston.com, https://mostbetuztop.com, https://1xbetaz777.com, https://kingdom-con.com, https://1xbetsitez.com, https://vulkan-vegas-24.com, https://mostbet-azerbaijan2.com, https://mostbet-uz-24.com, https://mostbetuzonline.com, https://1win-az24.com, https://vulkanvegaskasino.com, https://1xbet-azerbaycanda.com, https://mostbet-oynash24.com, https://vulkan-vegas-bonus.com, https://vulkan-vegas-888.com, https://pinup-bet-aze.com, https://1xbetaz888.com, https://mostbetaz777.com, https://1win-azerbaijan2.com, https://mostbetsitez.com, https://mostbet-kirish777.com, https://vulkan-vegas-casino2.com, https://1winaz888.com, https://mostbettopz.com, https://most-bet-top.com, https://mostbet-azerbaycanda.com, https://pinup-az24.com, https://1win-az-777.com, https://vulkan-vegas-kasino.com, https://vulkanvegas-bonus.com, https://1xbetaz2.com, https://1win-azerbaijan24.com, https://1xbet-az-casino2.com, https://mostbet-azerbaycanda24.com, https://1xbetcasinoz.com, https://1xbetaz3.com, https://mostbet-uzbekistons.com, https://1xbet-azerbaycanda24.com, https://1xbet-azerbaijan2.com, https://vulkan-vegas-spielen.com, https://mostbetcasinoz.com, https://1xbetkz2.com, https://pinup-azerbaijan2.com, https://mostbet-az24.com, https://1win-qeydiyyat24.com, https://1xbet-az-casino.com, https://pinup-azerbaycanda24.com, https://vulkan-vegas-erfahrung.com